DHARTI GAGAN MEIN HOTI HAI TERI JAY JAYKAR is a hindi devi bhajan by Suresh Wadkar and Anuradha PaudwalLyrics of this song is written by Naqsh Layalpuri while Amar-Utpal composed it's Music. This song is labeled by T-Series.



Devi Bhajan: Dharti Gagan Mein Hoti Hai
Singers: Suresh Wadkar, Anuradha Paudwal
Music Director: Amar-Utpal
Lyricist: Naqsh Layalpuri
Album: Jai Maa Vaishno Devi
Music Label: T-Series

Dharti Gagan Me Hoti Hai Hindi Lyrics

जय जय शेरावाली माँ
जय जय मेहरावाली माँ
जय जय ज्योतावाली माँ
जय जय लाटावाली माँ

जयकारा....शेरावाली दा
बोल सांचे दरबार की जय....

धरती गगन में होती है, 
तेरी जय-जयकार, हो मैया..
ऊँचे भवन में होती है,
तेरी जय-जयकार...

(हो मैया..धरती गगन में होती है, 
तेरी जय-जयकार, हो मैया..

ऊँचे भवन में होती है,
तेरी जय-जयकार...)

दुनिया तेरा नाम जपे
दुनिया तेरा नाम जपे
तुझको पूजे संसार...

(हो मैया..धरती गगन में होती है, 
तेरी जय-जयकार, हो मैया..
ऊँचे भवन में होती है,
तेरी जय-जयकार...)

सरस्वती, महालक्ष्मी, काली तीनो की तू प्यारी,
गुफा के अंदर तेरा मंदिर, तेरी महिमा न्यारी ।।
शिव की जटा से निकली गंगा, आई शरण तिहारी,
आदिशक्ति, आदि भवानी, तेरी शेर सवारी ।।

(हे अम्बे, हे माँ जगदम्बे करना तू इतना उपकार,
आये हैं तेरे चरणों में देना हमको प्यार)

धरती गगन में होती है, 
तेरी जय-जयकार, हो मैया..
ऊँचे भवन में होती है,
तेरी जय-जयकार...

(हो मैया..धरती गगन में होती है, 
तेरी जय-जयकार, हो मैया..
ऊँचे भवन में होती है,
तेरी जय-जयकार...)

ब्रह्मा, विष्णु, महेश भी तेरे आगे शीश झुकाएं,
सूरज चाँद सितारे तुझसे उज्जयारा ले जाएँ ।।
देव लोक के देव भी मैया, तेरे ही गुन गायें,
मानव करे जो तेरी भक्ति, भाव सागर तर जाए ।।

(हे अम्बे, हे जगदम्बे करना तू इतना उपकार,
आये हैं तेरे चरणों में देना हमको प्यार)

हो मैया..धरती गगन में होती है, 
तेरी जय-जयकार, हो मैया..
ऊँचे भवन में होती है,
तेरी जय-जयकार

(हो मैया..धरती गगन में होती है, 
तेरी जय-जयकार, हो मैया..
ऊँचे भवन में होती है,
तेरी जय-जयकार...)

दुनिया तेरा नाम जपे
दुनिया तेरा नाम जपे
तुझको पूजे संसार...
हो मैया..धरती गगन में होती है, 
तेरी जय-जयकार, हो मैया..
ऊँचे भवन में होती है,
तेरी जय-जयकार...


ओ ओ हो...