गीत परिचय: जिस देश में गंगा बहती है (Jis Desh Mein Ganga Behati Hai), एक हिंदी देशभक्ति गीत है जो कि 1960 में रिलीज हुई मूवी जिस देश में गंगा बहती है का टाइटल सॉन्ग है इस गाने को गाया है मुकेश जी ने, शंकर - जयकिशन जी ने इसे म्यूजिक दिया है तथा इस गाने के लिरिक्स शैलेंद्र जी ने लिखे हैं। इस गाने को सुनने के बाद आपको भी यह गाना आपको बहुत पसंद आएगा इस गाने में मुकेश जी के द्वारा भारतीय संस्कृति और यहां के लोगों के प्यारे व्यवहार को गाकर बेहतरीन तरीके से पेश किया गया है।




 Song:                       Jis Desh Mein Ganga Bahati Hai
 Singer:  Mukesh
 Lyricist:  Shailendra
 Music:  Shankar - JayKishan
 Label:  -
 Released:  -


Jis Desh Mein Ganga Bahati Hindi Lyrics


होठों पे सच्चाई रहती है
जहाँ दिल में सफ़ाई रहती है
हम उस देश के वासी हैं
हम उस देश के वासी हैं
जिस देश में गंगा बहती है

होठों पे सच्चाई रहती है
जहाँ दिल में सफ़ाई रहती है
हम उस देश के वासी हैं
हम उस देश के वासी हैं
जिस देश में गंगा बहती है

मेहमां जो हमारा होता है
वो जान से प्यारा होता है

मेहमां जो हमारा होता है
वो जान से प्यारा होता है

ज़्यादा की नहीं लालच हमको

थोड़े मे गुज़ारा होता है
थोड़े मे गुज़ारा होता है

बच्चों के लिये जो धरती माँ
सदियों से सभी कुछ सहती है
हम उस देश के वासी हैं
हम उस देश के वासी हैं
जिस देश में गंगा बहती है

कुछ लोग जो ज़्यादा जानते हैं
इन्सान को कम पहचानते हैं...
कुछ लोग जो ज़्यादा जानते हैं
इन्सान को कम पहचानते हैं
ये पूरब हैं, पूरब वाले
हर जान की कीमत जानते हैं
हर जान की कीमत जानते हैं
मिल जुल के रहो और प्यार करो
एक चीज़ यही जो रहती है
हम उस देश के वासी हैं
हम उस देश के वासी हैं
जिस देश में गंगा बहती है

जो जिससे मिला सिखा हमने
गैरों को भी अपनाया हमने
जो जिससे मिला सिखा हमने
गैरों को भी अपनाया हमने
मतलब के लिये अन्धे होकर
रोटी को नहीं पूजा हमने
रोटी को नहीं पूजा हमने
अब हम तो क्या सारी दुनिया
सारी दुनिया से कहती है

हम उस देश के वासी हैं
हम उस देश के वासी हैं
जिस देश में गंगा बहती है

होठों पे सच्चाई रहती है
जहाँ दिल में सफ़ाई रहती है
हम उस देश के वासी हैं
हम उस देश के वासी हैं
जिस देश में गंगा बहती है

:समाप्त:

"दोस्तों ! इस गाने के लिरिक्स में यदि कोई कमी हो तो कृपया करके हमें कमेंट बॉक्स में बताएं।"