दोस्तों! यह देश है वीर जवानों का अलबेलो का मस्तानों का (Ye Desh Hai Veer Jawano Ka) गाना एक हिंदी देश-भक्ति गीत (Hindi Petriotic Song) है जोकि 1957 में रिलीज हुई मूवी नया दौर (Naya Daur) का एक गाना है इस गाने के लिरिक्स (Lyrics) को या यूं कहें बोल को साहिर लुधियानवी (Sahir Ludhiyanvi) जी ने लिखा है, गाने का म्यूजिक ओ पी नय्यर (O.P. Nayyar) जी के द्वारा निर्देशित किया गया है तथा मशहूर गायक मोहम्मद रफी (Mohammad Rafi) जी ने इस गाने में आवाज दी है। दोस्तों! यह एक बेहतरीन हिंदी देशभक्ति गीत है आपने इसे कई बार सुना भी होगा और इसे सुनकर झूमे भी होंगे तो हम आपके लिए इस गाने के लिरिक्स लाए हैं यदि इस लिरिक्स में कोई कमी हो तो कृपया उसे कमेंट में बताएं हम उसे सही करने की पूरी कोशिश करेंगे, धन्यवाद!



 गाना (Song):                       ये देश है वीर जवानों का
 मूवी(Movie):  नया दौर (1957)
 गायक(Singer):  मोहम्मद रफी
 गीतकर(Lyricist):  साहिर लुधियानवी
 म्यूजिक(Music):  ओ. पी. नय्यर
 लेबल(Label):  -
 Released:  -


Ye Desh Hai Veer Jawano Ka Hindi Lyrics


ओ ...
ओ ...
ये देश है वीर जवानों का 
अलबेलों का मस्तानों का
इस देश का यारों ... होय!! 
इस देश का यारों क्या कहना 
ये देश है दुनिया का गहना

ओ... ओ...
यहाँ चौड़ी छाती वीरों की
यहाँ भोली शक्लें हीरों की
यहाँ गाते हैं राँझे ... होय!!
यहाँ गाते हैं राँझे मस्ती में
मस्ती में झूमें बस्ती में

ओ... ओ...
पेड़ों में बहारें झूलों की
राहों में कतारें फूलों की
यहाँ हँसता है सावन ... होय!!
यहाँ हँसता है सावन बालों में
खिलती हैं कलियाँ गालों में

ओ... ओ...
कहीं दंगल शोख जवानों के
कहीं कर्तब तीर कमानों के
यहाँ नित नित मेले ... होय!!
यहाँ नित नित मेले सजते हैं
नित ढोल और ताशे बजते हैं

ओ... ओ...
दिलबर के लिये दिलदार हैं हम
दुश्मन के लिये तलवार हैं हम
मैदां में अगर हम ... होय!! 
मैदां में अगर हम दट जाएं
मुश्किल है के पीछे हट जाएं

हुर्र हे !! हा!!
हुर्र हे !! हा!!
हुर्र हे !! हा!
अड़िपा! अड़िपा! अड़िपा!
अड़िपा! अड़िपा!
अड़िपा! अड़िपा! अड़िपा!

संबंधित गाने जिन्हें आप पसंद करेंगे...