दोस्तों! ऐ मेरे प्यारे वतन ऐ मेरे बिछड़े चमन / Aye Mere Pyare Watan Aye Mere Bichade Chaman गाना 1961 में रिलीज हुई मूवी काबुलीवाला Kabuliwala (1961) का गीत है इस गाने को डायरेक्ट किया है सलील चौधरी (Salil Chaudhary) जी ने इस गाने को गाया है मन्ना दे (Manna De) ने तथा इस गाने के बोल (Lyrics) लिखे गए हैं प्रेम धवन (Prem Dhawan) जी के द्वारा। दोस्तों य एक हिंदी (Hindi) देशभक्ति गीत है जो कि कारगिल युद्ध (Kargil War) की याद में गाया गया था दोस्तों इस गाने में एक सैनिक अपने वतन/देश को याद करके अपने जन्मभूमि (Motherland) की तारीफ करता है इस गाने को सुनने के बाद पता चलता है कि एक सैनिक किस प्रकार से अपने वतन को याद करता है। दोस्तों यह गाना आपको एक बार जरूर सुनना चाहिए अगर आप सच में अपने वतन से प्यार करते हैं|




 गाना (Song):                       ऐ मेरे प्यारे वतन
 मूवी (Movie):  काबुलीवाला (1961)
 गायक(Singer):  मन्ना ड़े
 गीतकर(Lyricist):  प्रेम धवन
 म्यूजिक(Music):  सलील चौधरी
 लेबल(Label):  -
 Released:  -


Aye Mere Pyare Watan Song Hindi Lyrics

ऐ मेरे प्यारे वतन, ऐ मेरे बिछड़े चमन
तुझ पे दिल क़ुरबान
तू ही मेरी आरज़ू, तू ही मेरी आबरू
तू ही मेरी जान
ऐ मेरे प्यारे वतन, ऐ मेरे बिछड़े चमन
तुझ पे दिल क़ुरबान

[Music]

( तेरे दामन से जो आए उन हवाओं को सलाम ) x2
चूम लूँ मैं उस ज़ुबाँ को जिसपे आए तेरा नाम 
सबसे प्यारी सुबह तेरी
सबसे रंगीं तेरी शाम
तुझ पे दिल क़ुरबान ...
तू ही मेरी आरज़ू, तू ही मेरी आबरू
तू ही मेरी जान...

( माँ का दिल बनके कभी सीने से लग जाता है तू ) x2
और कभी नन्हीं सी बेटी बन के याद आता है तू 
जितना याद आता है मुझको
उतना तड़पाता है तू
तुझ पे दिल क़ुरबान ...
तू ही मेरी आरज़ू, तू ही मेरी आबरू
तू ही मेरी जान...

( छोड़ कर तेरी ज़मीं को दूर आ पहुंचे हैं हम ) x2
फिर भी है ये ही तमन्ना तेरे ज़र्रों की क़सम 
हम जहाँ पैदा हुए 
उस जगह ही निकले दम
तुझ पे दिल क़ुरबान ...
तू ही मेरी आरज़ू, तू ही मेरी आबरू
तू ही मेरी जान...
ऐ मेरे प्यारे वतन, ऐ मेरे बिछड़े चमन
तुझ पे दिल क़ुरबान


दोस्तों! इस गाने के लिरिक्स में यदि कोई कमी है तो उसे आप कमेंट बॉक्स में बता सकते हैं.. धन्यवाद!